BREAKINGDOABAPUNJAB

🌐जालंधर पुलिस कमिशनरेट ने श्री कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव के मद्देनज़र शहरवासियों को कोविड -19 प्रोटोकॉल की पालना करने का अनुरोध किया
🌐शहर में करीब 1000 पुलिस अधिकारी सुरक्षा हेतु रहेंगे तैनात और एक समय में 20 से अधिक लोगों को मंदिर में इकट्ठा होने की अनुमति नहीं दी जाएगी : कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर

जालंधर (हितेश सूरी) : पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने शहरवासियों से अपील की है कि मंदिरों में जन्माष्टमी के शुभ अवसर पर भीड़-भाड़ इकठ्ठी न की जाए और  कोविड-19 प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करें। सुरक्षा व्यवस्था की जायजा लेते हुए श्री भुल्लर ने कहा कि पंजाब सरकार ने श्री कृष्ण जन्माष्टमी के शुभ अवसर पर रात के कर्फ्यू में ढील दी है और कर्फ्यू 12-13 अगस्त की रात (केवल एक दिन) के लिए 1 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू लगाया जाएगा। इससे पहले रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक जालंधर में कर्फ्यू लगाया गया था। पंजाब सरकार की ओर से छूट दी गई है ताकि लोग मंदिरों में जा कर प्राथना करने जा सकें। लोगों को मंदिरों की यात्रा के दौरान कोविड-19 से संबंधित स्वास्थ्य सुरक्षा दिशानिर्देशों का पालन करना होगा। श्री भुल्लर ने कहा कि एक समय में 20 से अधिक लोगों को मंदिर में इकट्ठा होने की अनुमति नहीं दी जाएगी और सभी को मास्क पहनना होगा, सामाजिक दूरी बनाए रखना होगा, हाथ की सफाई और चेहरे, आंखों और नाक को छूने से बचना होगा। जालंधर कमिश्नरेट पुलिस के अधिकार क्षेत्र में लगभग 207 मंदिर हैं। इस उत्सव के मद्देनजर शहर में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। पुलिस कमिश्नर ने आगे कहा कि श्री कृष्ण जन्माष्टमी के शुभ उत्सव के मद्देनजर कड़ी निगरानी रखने के लिए लगभग 1000 पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों को तैनात किया गया है। सभी मंदिरों में और मंदिरों के आस-पास नियमित जांच के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। श्री भुल्लर ने कहा कि शहर में 24 घंटे चौकसी बरती जाएगी , जिसके लिए पुलिस अधिकारियों के विभिन्न गश्त दलों को लगाया गया है। श्री भुल्लर ने वरिष्ठ अधिकारियों को शहर में कानून और व्यवस्था की स्थिति पर सख्त नज़र रखने के लिए निरीक्षण करने का निर्देश दिया है। इस दौरान पुलिस कमिश्नर सहित अन्य अधिकारियों ने भी महा लक्ष्मी मंदिर का दौरा किया और इस शुभ अवसर को सुचारु ढंग से मनाने के लिए अधिकारियों एवं कर्मचारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस अवसर पर प्रमुख रूप से एडीसीपी वत्सला गुप्ता, एसीपी सतिंदर चड्ढा, हरसिमरत सिंह और अन्य उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!