BREAKINGDOABAJALANDHARMAJHAMALWAPOLITICSPUNJAB

🔰 डेमोक्रेटिक भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्र गिल के प्रयासों से नेशनल जागृति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लखबीर सिंह राजधान की हुई घर वापसी, पार्टी में खुशी की लहर
🔰 पार्टी के विलय के बाद लखबीर सिंह राजधान को मिली राष्ट्रीय उपाध्यक्ष की बड़ी जिम्मेदारी
🔰 DBSP के राष्ट्रीय चेयरमैन प्रिसिंपल मोहन लाल खोसला व संत समाज की उपस्थिति में लखबीर सिंह ने थामा DBSP का दामन

टांडा /राजधान (हितेश सूरी) : डेमोक्रेटिक भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्र गिल की अध्यक्षता में पार्टी में घर वापसी करते हुए नैशनल जागृति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लखबीर सिंह राजधान द्वारा अपनी पार्टी का विलय आज डेमोक्रेटिक भारतीय समाज पार्टी में करने की बड़ी घोषणा की गई है l बता दे की लखबीर सिंह राजधान वर्ष 2014 में होशियारपुर से डैमोक्रेटिक भारतीय समाज पार्टी की तरफ से MP का चुनाव लड़ चुके है व बाद में उन्होंने नैशनल जागृति पार्टी का राष्ट्रीय स्तर पर गठन कर लिया था l देश के विभिन्न राज्यों में दलित व पिछड़े समाज के उत्थान में जुटी नैशनल जागृति पार्टी के डैमोक्रेटिक भारतीय समाज पार्टी में विलय के बाद देश में दलित व पिछडे समाज के एक बड़े राजनीतिक प्लेटफार्म के उभरने की प्रबल सम्भावनाएं सामने आई है व इससे पार्टी में खुशी की लहर है l इस सम्बंध में डैमोक्रेटिक भारतीय समाज पार्टी की एक विशेष बैठक आज निकटवर्ती कस्बा टांडा के गांव राजधान में राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्र गिल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई l बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय चेयरमैन प्रिसिंपल मोहन लाल खोसला, पंजाब एवं राजस्थान के संत समाज के प्रभारी बसंत दास जी महाराज, पार्टी के राष्ट्रीय वाइस चेयरमैन प्रेम सारसर की उपस्थिति में लखबीर सिंह राजधान ने DBSP के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्र गिल के नेतृत्व में विश्वास व्यक्त करते हुए अपनी राष्ट्रीय स्तरीय नैशनल जागृति पार्टी का विलय करने की घोषणा की l

लखबीर सिंह राजधान

इस अवसर पर लखबीर सिंह राजघान को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नियुक्त करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्र गिल ने कहा की उन्होंने अपना जीवन डैमोक्रेटिक भारतीय समाज पार्टी को समर्पित कर रखा है व उनके पद सम्भालने से पूर्व किन्हीं कारणों के चलते पार्टी से अलग चल रहे ईमानदार व राजनीतिक स्तर पर मजबूत नेताओं, साथियों व उनके परिवारों की घर वापसी करवाना उनका मुख्य लक्ष्य है l अपने संबोधन में राजेन्द्र गिल ने कहा की लखबीर सिंह राजधान की घर वापसी से न केवल डेमोक्रेटिक भारतीय समाज पार्टी को बल मिला है बल्कि दलित व पिछड़े समाज को राजनीतिक मजबूती मिली है l वर्णनयोग्य है की राष्ट्रीय अध्यक्ष का पदभार सम्भालने के बाद श्री गिल ने पार्टी के कई पुराने नेताओं व उनके परिवारों की सपरिवार पार्टी में घर वापसी करवाई है जिससे डैमोक्रेटिक भारतीय समाज पार्टी पिछड़े व दलित समाज के एक बड़े राजनीतिक संगठन के रुप में उभर कर सामने आ रही है l

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!