BREAKINGCHANDIGARHCRIMEDOABAJALANDHARMAJHAMALWAPUNJAB

जरनैल सिंह भिंडरावाले के भतीजे भगौड़े आंतकी लखबीर सिंह रोड़े की 43 कनाल जमीन सील; निहंग सिंहों ने घेरा घर, NIA ने पंजाब पुलिस के कमांडोंज की प्रोटेक्शन में पूरी की कार्रवाई

जालंधर (योगेश सूरी) : पंजाब में खालिस्तानी नेक्सस ध्वस्त करने व खालिस्तानी गतिविधियों पर लगाम कसने के लिए NIA द्वारा चलाई जा रही मुहीम के तहत आज NIA ने जरनैल सिंह भिंडरावाले के सगे भतीजे व पाकिस्तान की कुख्यात खुफिया एजेंसी ISI की गोद में छिपे बैठे आंतकी लखबीर सिंह रोडे की करीब 43 कनाल जमीन सील कर दी है। मौके पर स्थिति उस समय तनावपूर्ण बन गई जब NIA द्वारा घर सील किए जाने की सूचना मिलने पर भारी मात्रा में निहंग सिंह इकट्ठे हो गए । मगर NIA ने पंजाब पुलिस के स्पैशल कमांडोज की सहायता से आखिरकर आंतकी रोडे की 43 कनाल जमीन सील की और उस पर बोर्ड लगा दिया। व कार्रवाई को सफलतापूर्वक अंजाम देकर वापिस लौट गईlखुफिया सूत्रों से मिली इनपुट के अनुसार लखबीर रोड काे ISI फंडिंग कर रही है। रोडे ने पंजाब में आतंकी वारदातों काे अंजाम देने के लिए 70 स्लीपर सेल तैयार किए हैं। एक स्लीपर सेल में 2-3 लाेग शामिल हैं।

पढें यह भी खबर : भारत का मोस्ट-वांटेड आंतकी पाकिस्तान में ढेर , पठानकोट एयरबेस पर हमले का था मास्टरमाइंड

कुछ स्लीपर सेल ऐसे हैं, जाे फिलहाल सक्रिय नहीं हैं। उन्हें किसी बड़ी आतंकी वारदात की जिम्मेदारी सौपी जानी हैं। कुछ स्लीपर सेल ऐसे हैं, जिन्हें दीवारों पर खालिस्तानी नारे लिखने और उससे जुड़े पोस्टर चिपकाने का काम सौपा गया है। दीवारों पर नारे लिखने और पोस्टर चिपकाने वाले स्लीपर सेल के मेंबरों काे 5 से 20 हजार रुपए तक दिए जाते हैं। पैसों का लेन-देन पंजाब में ही हाथों हाथ हाेता है। बैंक ट्रांजेक्शन नहीं हाेती।

बीते दिनों पंजाब की एजेंसियों ने खुलासा किया था कि आतंकी रोडे के पंजाब में 70 स्लीपर सेल में 150 से अधिक मेंबर हैं। स्लीपर सेल के 2-3 मेंबर ही एक दूसरे काे जानते हैं। स्लीपर सेल के बाकी मेंबर एक-दूसरे काे जानते तक नहीं। न ही किसी के पास स्लीपर सेल के मेंबर का नंबर है। जब हथियारों की खेप आती है ताे इसकी जानकारी 1 या 2 स्लीपर सेल के मेंबरों काे ही होती है, जबकि अन्य मेंबर इसके बारे में अंजान रहते हैं। एजेंसियों का कहना है कि खतरा टला नहीं है। हथियारों -विस्फोटक की खेप का कुछ हिस्सा अभी भी बाहर है, जिसका इस्तेमाल त्योहारों के दिनों में आतंकी वारदातों के लिए किया जाना है।

कौन है लखबीर सिंह रोडे ?

लखबीर सिंह रोडे आतंकी जरनैल सिंह भिंडरावाले का सगा भतीजा है और इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन का प्रमुख और खालिस्तानी समर्थक है l लखबीर सिंह रोडे, मोस्ट-वांटेड आतंकवादी’ है और यूएपीए के तहत 1996/97 के आसपास पाकिस्तान भाग गया था l

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!