BREAKINGDOABAJALANDHARMAJHAMALWAPOLITICSPUNJAB

🔥 चारपाई व सफेद चादर लाने की चुनौती देने वाले BJP नेता ने अब कहा-मेरी बातों से किसी को ठेस पहुंची तो “Sorry” !!
🌀 किसानों द्वारा घर पर गोबर फैंकने के बाद बदले सुर

जालंधर (हितेश सूरी) : गोबर लाए तो सफेद चादर व चारपाई भी ले आना जैसी चुनौती देने वाले BJP के नवनियुक्त प्रदेश प्रवक्ता एडवोकेट एचएस काहलों के घर बुधवार देर रात किसानों ने गोबर पोत दिया तो उनके सुर बदले दिखाई देने लगे है। अपने बयानों से यू-टर्न लेते हुए अब काहलों ने कहा कि उन्होंने सामान्य बात कही थी कि कोई गर्म दिमाग वाला होता तो किसानों के साथ ऐसा कर देता। उनकी बात को गलत ढंग से लिया गया। उन्होंने कहा कि अगर किसी को उनकी बातों से ठेस पहुंची है तो उसके लिए वो खेद प्रकट करते हैं। हलांकि उन्होंने सीधे तौर पर किसानों से माफी नहीं मांगी।बता दें कि बुधवार देर रात काहलों के बयानों के बाद किसानों का गुस्सा फूट पड़ा था। किसानों ने श्री काहलों के जालंधर में दकोहा स्थित घर में गोबर की बोरियां फेंकी और दीवारों पर भी गोबर पोत दिया था। जहां तक की उनकी नेम प्लेट तक उखाड़ फैंकी थी व बिजली कनेक्शन भी काट दिया था । यह सब पुलिस की उपस्थिति में हुआ । किसानों ने काहलों के विवादस्पद बयानों का विरोध करते हुए काहलों का पुतला भी फूंका ।

किसानों ने कहा कि एक तरफ भाजपा की केन्द्र सरकार ने कृषि के काले कानून लाकर किसानों को बेघर कर दिया है तो दूसरी तरफ भाजपा नेता विवादित टिप्पणियां कर रहे हैं।बता दे की काहलों ने कहा था – गोबर लाए तो चारपाई और सफद चादर ले आना!! जालंधर में शीतला माता मंदिर स्थित BJP कार्यालय में श्री काहलों के सम्मान में रखे एक समारोह में गत दिवस श्री काहलों ने यह में विवादास्पद बयान दिया था। काहलों ने कहा था कि जब वह BJP में शामिल होने वाले थे तो उन्हें एक व्यक्ति का फोन आया। उसने कहा कि अगर भाजपा में जाओगे तो गोबर की ट्रॉली तैयार खड़ी है आपके दरवाजे पर फेंकने को। तब काहलों कहा की मैंने जवाब दिया कि अगर तुम गोबर लेकर आओगे तो उसके साथ एक चारपाई और सफेद चादर भी ले आना। उसने पूछा क्यों? तो मैंने कहा कि जो गोबर की ट्रॉली लेकर आएगा, वह चारपाई पर लेटकर जाएगा। सीधे तौर पर किसानों को चुनौती देने से पूरा मामला तूल पकड़ गया था। जिसके बाद भड़के किसानों ने पहले काहलों के घर प्रदर्शन किया और फिर पूरे घर को गोबर से पोत दिया। जालंधर के वरिष्ठ भाजपाईयों की उपस्थिति में इसी समारोह में काहलों ने यह भी कहा था ये तो मोदी साहब हैं जो किसानों को प्यार करते हैं। अगर उनके जैसा दिमाग वाला आदमी होता तो डंडे मारकर इन्हें जेल के अंदर डाल देता। काहलों ने वामपंथियों पर भी निशाना साधा था कि लाल झंडे वाले जिस घर में घुस जाते हैं वह उजड़ जाता है। इसकी वजह से उनकी रोजी-रोटी चल रही है। हालांकि संयुक्त किसान मोर्चा नेता बलबीर राजेवाल ने इसका जवाब दिया था कि अगर वह इसी तरह बकवास करेंगे तो ऐसा सबक सिखाएंगे कि नानी याद आ जाएगी। बहरहाल सम्मान समारोह में उपस्थित भाजपा नेताओं ने काहलों के बयानों से किनारा कर लिया था l

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!