AMRITSARBARNALABATHINDABREAKINGCHANDIGARHDOABAFARIDKOTFATEHGARH SAHIBFAZILKAFIROZPURGURDASPURHOSHIARPURINTERNATIONALJALANDHARKAPURTHALALUDHIANAMAJHAMALERKOTLAMALWAMANSAMOGAMOHALIMUKTSARNATIONALNAWANSHAHRPATHANKOTPATIALAPHAGWARAPOLITICSPUNJABROPARSANGRURTARN TARAN

🔊खालिस्तानी अमृतपाल के साले पर भी अब NIA ने कसा शिकंजा : केस दर्ज, कनाडा में दूतावास पर ग्रेनेड फेंकने वाली खालिस्तान समर्थकों की भीड़ का किया था नेतृत्व

जालंधर (योगेश सूरी) : पंजाब में खालिस्तान के नाम जातीय वैमनस्य फैलाने के दोषी आंतकी अमृतपाल सिंह के साले अमरजोत सिंह के खिलाफ भी अब NIA ने बड़ी कार्रवाई करते हुए मामला दर्ज किया है। बता दे की अमरजोत के नेतृत्व में खालिस्तान समर्थकों की भीड़ ने कनाडा के ओटावा में 23 मार्च 2023 को भारतीय उच्चायोग पर ग्रनेड हमला किया था।  NIA के अधिकारियों ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया है कि फेडरल एजेंसी ने सैन फ्रांसिस्को में भारतीय दूतावास पर हमला में भी एक FIR और दर्ज की है। इस मामले में भी बाबा सरवन सिंह सहित आठ खालिस्तान समर्थकों की पहचान की गई है। 18-19 मार्च को संयुक्त राज्य अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को में भारतीय दूतावास पर हमले से संबंधित दूसरे मामले में NIA ने आठ खालिस्तान समर्थकों बाबा सरवन सिंह, अमनदीप सिंह विर्क, लखबीर सिंह, गुरशरणजीत सिंह, हरप्रीत सिंह, संदीप सिंह, गुरचरण सिंह खालसा, जसप्रीत सिंह लोवला और अज्ञात का नाम जोड़ा है। NIA ने 19 मार्च को लंदन में इसी तरह के हमले की चल रही जांच के अलावा, एक बड़ी साजिश और भारतीय उच्चायोगों व फेडरल दूतावासों पर हमलों में पाकिस्तान के लिंक की जांच करने के लिए मामले अपने हाथ में लिए थे। मिली जानकारी के अनुसार पंजाब पुलिस और केंद्र सरकार ने जब अमृतपाल सिंह की तलाश शुरू की थी तो अमरजोत ने कनाडा में भारत के खिलाफ विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व किया। इसी तरह के विरोध प्रदर्शनों का नेतृत्व बीते दिनों मारे गए आतंकी हरदीप सिंह निज्जर और लंदन स्थित आतंकी अवतार सिंह खांडा जैसे खालिस्तानी नेताओं द्वारा भी किया जा रहा था। NIA द्वारा अमरजोत सिंह का रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है और उसके अमृतपाल सिंह के साथ कॉन्टैक्ट में रहने के सबूत इकट्‌ठे करने के प्रयास जारी हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!