BREAKINGDOABAJALANDHARMAJHAMALWAPOLITICSPUNJAB

🛑 हड़ताल, तनाव, धरना, FIR और लाठीचार्ज!!
🔰मामला : किसानों ने नायब तहसीलदार व स्टाफ को बनाया बंधक, पुलिस ने किया लाठीचार्ज, कई घायल, FIR दर्ज!!
🔰हड़ताल : जालंधर समेत पंजाब के सभी डीसी दफ्तरों में कामकाज ठप्प!!

लंबी/श्री मुक्तसर साहिब (न्यूज़ लिंकर्स ब्यूरो) : गुलाबी सुंडी से खराब हुई नरमा की फसल के मुआवजे की मांग को लेकर भारतीय किसान यूनियन (एकता उग्राहां) की अगुआई में किसानों की ओर से लंबी के नायब तहसीलदार अरजिंदर सिंह सहित अन्य स्टाफ को दफ्तर में शाम को बंधक बना लेने पर रात को 12 बजे के बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।लाठीचार्ज कर किसानों को खदेड़ने के बाद नायब तहसीलदार सहित स्टाफ दफ्तर से बाहर आ सका। उधर, पुलिस के लाठीचार्ज में सात किसान जख्मी हो गए। जिन्हें लंबी के सिविल अस्पताल में दाखिल कराया गया है।

इन घायलों में किसानों में हरपाल सिंह किल्लियांवाली, निशान सिंह कख्खांवाली, जगदीप सिंह खुड्डियां, दविंदर सिंह मानांवाला, एमपी सिंह भुल्लरवाला, गुरलाभ सिंह कख्खांवाली, काला सिंह खुन्नण खुर्द आदि शामिल हैं।किसानों का आरोप है कि गुलाबी सुंडी से खराब हुई नरमा की फसल के मुआवजे के मामले में मुक्तसर जिले को नजरंदाज किया गया है। मुक्तसर जिले में अधिकतर नरमा की खेती लंबी ब्लाक में ही होती है। गिरदावरी में लंबी ब्लाक के केवल छह गांवों को ही शामिल किया गया है और उन्हें भी अभी तक मुआवजा नहीं दिया गया। जबकि अन्य करीब 30 गांवों को शामिल ही नहीं किया गया।भाकियू ने अब तहसील दफ्तर के बाहर धरना लगाया हुआ है। उधर, किसानों की ओर से बंधक बनाए जाने पर देर रात को ही पटवारियों ने बाहर आने के बाद वहीं पर नेशनल हाइवे पर धरना देकर प्रदर्शन किया। अब बंधक बनाने वाले किसानों पर कार्रवाई करने की मांग को लेकर जिले के सभी एसडीएम व तहसील दफ्तरों के स्टाफ ने हड़ताल पर जाने का ऐलान कर दिया है। प्रदेश के तहसीलदार और नायब तहसीलदार भी गांव बादल स्थित गेस्ट हाउस में इकट्ठा होंगे।

हड़ताल DC दफ्तरों में : लंबी में किसान संगठनों द्वारा डीसी दफ्तर के मुलाजिमों से मारपीट के मामले ने तूल पकड़ लिया है। जिससे पंजाब राज जिला डीसी दफ्तर कर्मचारी यूनियन ने आज पूरे प्रदेश में कलमछोड़ हड़ताल का ऐलान कर दिया।

डीसी दफ्तर में कलमछोड़ हड़ताल के कारण सभी कामकाज ठप हो गए हैं। यूनियन के वरिष्ठ उप प्रधान तजिंदर सिंह ने बताया मुलाजिमों के साथ मारपीट की घटनाएं निन्दनीय है। इसके लिए आज सभी मुलाजिम हड़ताल पर हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!