BREAKINGCHANDIGARHDOABAJALANDHARMAJHAMALWAMANSAPOLITICSPUNJAB

🛑मूसेवाला के पिता को रिटायर्ड पुलिस अधिकारी ने किया चैलेंज
🛑सिद्धू की हत्या को गैंगवार का बताया परिणाम, कहा सारे सबूत मेरे पास
🛑पढ़े इनसाइड स्टोरी

जालंधर (न्यूज़ लिंकर्स ब्यूरों) : पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह को रिटायर पुलिस अधिकारी सतपाल ने सोशल मीडिया पर अपनी वीडियो जारी करके चैलेंज किया है। रिटायर पुलिस अधिकारी सतपाल ने सिद्धू की हत्या को गैंगवार का परिणाम बताते हुए कहा कि इसके सारे सबूत उनके पास हैं। रिटायर पुलिस अधिकारी ने कहा कि वह अभी तक सिद्धू मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह के साथ खड़े थे, लेकिन अब सच्चाई बताने का वक्त आ गया है। उन्होंने कहा कि इस गैंगवार की शुरुआत जगराओं के गांव बंबीहा से हुई थी। यहां से भागा शख्स कनाडा में किसके पास रुका था और वहां पर क्या कमिटमेंट हुई थी यह बात किसी से छुपी नहीं है। उन्होंने कहा कि इसके बाद रवि ख्वाजके का कत्ल, गुर लाल पहलवान का कत्ल और उसके बाद मिड्डू खेड़ा का सरेआम कत्ल हुआ। उन्होंने कहा कि इसके बाद बठिंडा में एक कत्ल हुआ। ऑस्ट्रेलिया में बैठे शगनप्रीत की गारंटी हम लेंगे कि उसे कुछ नहीं होने देंगे। आधे घंटे में दूध-दूध और पानी का पानी करके रख देंगे। रिटायर पुलिस अधिकारी ने मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह को कहा कि जहां पर तेरा बेटा बैठता था वहीं चंडीगढ़ में उसी कोठी में वह भी बैठते थे। उन्होंने कहा कि वह कुछ कहना नहीं चाहते थे, लेकिन अब मजबूर होकर बोल रहे हैं। उन्होंने कहा कि फरीदकोद में जिन 7 और 9 साल बच्चों के सिर से पिता का साया छीन लिया गया उसमें तेरे बेटे का क्या योगदान था उसके पूरे सबूत दूंगा। उन्होंने कहा कि शगनप्रीत सिद्धू मूसेवाला का करीबी था और वह पहले मूसेवाला के साथ ही रहता था। उन्होंने कहा कि मूसेवाला के सारे शो की डीलिंग शगनप्रीत ही करता था। उन्होंने कहा कि मोहाली में दिन दहाड़े हुए मिड्‌डूखेड़ा के कत्ल में उसका नाम सामने आया था। उन्होंने बताया कि दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल की जांच में शगनप्रीत का संबंध मिड्‌डूखेड़ा कत्ल का जिम्मा लेने वाले गैंगस्टर कौशल चौधरी के शार्प शूटर्स से जुड़ा था। उन्होंने कहा कि ​​​​​​शगनप्रीत ने पहले लॉरेंस और गोल्डी बराड़ की गैंग से खुद को खतरा बताते हुए पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में याचिका लगाई, लेकिन इसके बाद शगनप्रीत अचानक ऑस्ट्रेलिया चला गया और तब से वह वहीं रह रहा है। उन्होंने कहा कि मूसेवाला की हत्या करने वाले लॉरेंस गैंग को भी शक है कि शगनप्रीत को मूसेवाला ने ही ऑस्ट्रेलिया भागने में मदद की थी। रिटायर्ड पुलिस अधिकारी ने कहा कि यह भी संभावना जताई जाती है कि इसी रंजिश की वजह से लॉरेंस गैंग ने मूसेवाला की हत्या की थी और शगनप्रीत पर संदेह था उसने मिड्‌डूखेड़ा की हत्या करने वाले शार्प शूटर्स को छुपने की जगह उपलब्ध करवाई थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!