BREAKINGCRIMEDOABAJALANDHARMAJHAMALWAPOLITICSPUNJAB

🔰असले के दम पर पुलिस अधिकारी को घेरकर शर्ते मनवाने वाले नवजात खालिस्तानी अमृतपाल के साथियों के सारे हथियार लाइसेंस होंगे रद्द !!
🔰डीजीपी गौरव यादव ने दिए सख्त आदेश

चंडीगढ़/जालंधर (हितेश सूरी) : अजनाला थाना पर कब्ज़ा करने वाले ‘वारिस पंजाब दे’ संगठन के प्रमुख अमृतपाल सिंह को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। मिली जानकारी के अनुसार अजनाला थाना कांड के बाद पंजाब पुलिस बड़ा कदम उठाने जा रही है। सूत्रों के मुताबिक जरनैल भिंडरावाले जैसी वेशभूषा धारण करने वाले खालिस्तान समर्थक अमृतपाल सिंह के साथ 24 घंटे हथियारों के साथ लैस रहने वाले 10 समर्थकों के पंजाब पुलिस असलाहा लाइसेंस रद्द करने जा रही है। वही पुलिस के मुताबिक इनके लाइसेंसों पर कई हथियार दर्ज हैं। सूत्रों के मुताबिक अमृतपाल सिंह को लेकर केंद्रीय ख़ुफ़िया एजेंसिया बहुत अलर्ट हो गई हैं, रिसर्च एंड एनलेसिस विंग (RAW) नामक केंद्रीय ख़ुफ़िया एजेंसी ने 130 लोगों की एक लिस्ट भी तैयार की है जिसमें खालिस्तान की मुहिम को चलाने वालो के साथ-साथ मुहीम में शामिल लोगों के नाम भी अंकित है, जिनका सीधा संबंध अमृतपाल सिंह से भी है। वही दूसरी तरफ केंद्रीय एजेंसियों को जो इनपुट मिले हैं उसमें अमृतपाल सिंह के खतरनाक इरादों के संकेत हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस ने विभिन्न जिला प्रशासन को नोटिस जारी कर हथियारों का विवरण मांगा है, जिसके बाद लाइसेंस कैंसिल करने की कार्रवाई होगी क्योंकि सभी ने हथियार सेल्फ डिफेंस के लिए बनवाए हैं, न कि किसी के साथ बतौर सिक्योरिटी गार्ड के तौर पर प्रयोग करने के लिए। वही पंजाब पुलिस द्वारा दिए गए निर्देशों के बाद डीसी फरीदकोट ने गरभेज सिंह निवासी गांव गोंदरा, फरीदकोट का लाइसेंस रद्द कर दिया है। इस सम्बन्ध में पंजाब के डीजीपी गौरव यादव ने राज्य के सभी जिलों के डीसी और एसएसपी से रिपोर्ट मांगी है। वही पंजाब पुलिस ने 10 लोगों की पहचान की है, जो अमृतपाल सिंह के साथ हर समय चलते हैं। उन्होंने लाइसेंस अपनी सुरक्षा के लिए लिया था ना कि किसी और की सुरक्षा के लिए। इसलिए पंजाब पुलिस उनके लाइसेंस रद्द करने की तैयारी कर रही है। सूत्रों की माने तो केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों से जुड़े कुछ उच्च अधिकारी इंटेलिजेंस इनपुट के आधार पर मान रहे हैं कि युवाओं को गुमराह करके बड़ी फ़ौज तैयार करने की कोशिश कर रहे अमृतपाल सिंह के साथ हथियारबंद लोगों की संख्या बढ़ी है और इस वक्त उसके पास लेटेस्ट हथियारों का बड़ा भंडार है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!