BREAKINGCANADACHANDIGARHCRIMEDOABAINTERNATIONALMAJHAMALWAPUNJAB

🛑Flop Show: कनाडा के PM ट्रूडो की अनुपस्थिति में खालिस्तानी रेफरेंडम को मिली अनुमति: वीडीयोबाज आतंकी पन्नू भी पहुंचा; कुछेक हजार सिक्खों की उपस्थिति के चलते फ्लाप रहा खालिस्तान रेफरेंडम

जालंधर (योगेश सूरी) : अक्सर पर्दे के पीछे रह कर खालिस्तान की मांग पर भारत विरोधी आंतकी गतिविधियों में संलिप्त वीडीयोबाज आंतकी पन्नू कल कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की अनुपस्थिति में कनाडा के सरी शहर में हुए खालिस्तान रेफरेंडम में दिखाई दिया l

यह भी देखें : योगेश सूरी सम्पादक न्यूज लिंकर्स, ‘शिव सेना टक्साली’ के राष्ट्रीय प्रवक्ता नियुक्त, कहा-शहीद सुधीर कुमार सूरी की राष्ट्रवादी नीतियों को घर-घर पहुंचाना होगा प्रथम कार्य

बता दे की कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो को G20 सम्मेलन के दौरान विमान में तकनीकी खराबी के कारण भारत में ही रुकना पड़ा। उनकी गैरहाजिरी का फायदा उठाते हुए कनाडा के सरी में एक और भारत विरोधी खालिस्तानी रेफरेंडम जनमत संग्रह की अनुमति दे दी गई।हलांकि खालिस्तान रेफरेंडम में लाखों की संख्या में सिक्खों के पहुंचने के दावे कर रहे खालिस्तान समर्थकों को उस समय मुंह की खानी पड़ी जब इस जनमत संग्रह में वह केवल कुछेक हज़ार सिक्ख ही जुटाने में सफल हो सके l

जनमत संग्रह के दौरान सिख फॉर जस्टिस के आतंकी गुरपतवंत पन्नू ने एक बार फिर खुले तौर पर भारत के विभाजन का आह्वान किया और पीएम नरेंद्र मोदी, विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर और गृहमंत्री अमित शाह को धमकी भी दी ।बता दे की खालिस्तान जनमत संग्रह कार्यक्रम 10 सितंबर को सरे वैंकूवर में गुरुद्वारा गुरु नानक में आयोजित किया गया था। इतनी कम संख्या में सिक्खों की हाजिरी को देखते हुए इस जनमत संग्रह को पूरी तरह से फेल बताया जा रहा है।यह जनमत संग्रह खालिस्तान रेफरेंडम पहले कनाडा के एक सरकारी स्कूल में आयोजित किया जाना था मगर बाद में इसे स्कूल मैनेजमेंट और सरकार की दखलअंदाजी के बाद रद्द कर दिया गया था।

यह भी देखें : योगेश सूरी सम्पादक न्यूज लिंकर्स, ‘शिव सेना टक्साली’ के राष्ट्रीय प्रवक्ता नियुक्त, कहा-शहीद सुधीर कुमार सूरी की राष्ट्रवादी नीतियों को घर-घर पहुंचाना होगा प्रथम कार्य

परन्तु कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रूडो के भारत में G20 सम्मेलन में पहुंचने पर उनकी अनुपस्थिति में इसकी अनुमति भी दे दी गई और इसे आयोजित भी कर दिया गया।दिलचस्प बात यह है कि वीडीयो बाज आंतकी गुरपतवंत सिंह पन्नू इस कार्यक्रम में सार्वजनिक रूप से उपस्थित हुआ है। पिछले लंबे समय से वह अमेरिका में था और वहीं से भारत विरोधी वीडियो रिलीज कर रहा था। एक बार फिर पन्नू ने इस जनमत संग्रह में पहुंच कर भारत को तोड़ने की ओर इशारा करते हुए एक भड़काऊ भाषण दिया। सुरक्षा गार्डों की एक टीम उसके साथ थी। अब सवाल उठता है कि क्या भारत विरोधी आतंकी को अब कनाडा ने सुरक्षा प्रधान की गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!