BREAKINGCHANDIGARHCRIMEDOABAMAJHAMALWAPOLITICSPUNJAB

🔴पंजाब की जेल से फिर हुई गैंगस्टर की वीडियो वायरल : जेल प्रशासन में मचा हड़कम्प, सरकार के दावों पर सवाल
🔴जेल सुपरडैंट मनजीत सिंह टिवाना ने किया खंडन, कहा- उनकी जेल की नहीं यह वीडीयो, जेल विभाग के उच्चाधिकारी कर रहे मामले की जांच

जालंधर/चंडीगढ़ (योगेश सूरी) : पंजाब में सरकार के लाख दावों के बावजूद वीडीयो वायरल होने के मामले थम नहीं रहे l अब पंजाब की संगरूर जेल से एक बार फिर एक कुख्यात गैंगस्टर की वीडीयो वायरल होने से जेल प्रबंधन में हड़कंप मच गया है। हलांकि विडियो होने के तुरंत बाद गैंगस्टर के बैरक की तलाशी ली गई व बैरक से एक मोबाइल फोन बरामद होने की बात भी कही गई है। जिसके चलते गैंगस्टर पर मामला भी दर्ज करवाया गया है lबता दे की इसबार कुख्यात गैंगस्टर आमना ऊबा की वीडियो वायरल हुई है। वीडियो में गैंगस्टर अपनी बैरक से टोपी पहने हुए पूरी टशन में निकलता दिखा है। गैंगस्टर आमना अपने लोअर की दोनों जेबों में हाथ डालकर बेरोक-टोक बाहर निकलने के बाद आगे बढ़ जाता है। गौरतलब है कि गैंगस्टर आमना ऊबा ने कुछ साल पहले बठिंडा में गैंगस्टर कुलबीर नुरवाणा पर हमला किया था। वहीं गैंगस्टर आमना ऊबा गांव का सरपंच भी रह चुका है।याद रहे कि इससे पहले भी संगरूर जेल से करीब आधा दर्जन कैदियों की एक वीडियो वायरल हुई थी। इस वीडियो में कैदियों ने तत्कालीन जेल सुपरिंटेंडेंट समेत अन्य जेल स्टाफ पर उनसे पैसे वसूलने के आरोप लगाए थे। जिसके बाद संगरूर के तत्कालीन SSP डॉ. संदीप गर्ग ने पुलिस अधिकारियों को मामले की जांच की जिम्मेदारी सौंपी थी।साथ ही आरोपी गैंगस्टर आमना के खिलाफ FIR भी दर्ज कराई गई है।वीडीयो वायरल की बात करे तो पंजाब की जेलों से पहले भी गैंगस्टरों की कई वीडियो वायरल हो चुकी हैं। गैंगस्टर जेलों के अंदर से वीडियो बनाते रहे हैं। जेलों में नशा सामग्री और मोबाइल का इस्तेमाल करने के खुलासे होते रहे हैं। यहां तक कि बठिंडा की हाई सिक्योरिटी जेल से कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस का कथित इंटरव्यू भी सार्वजनिक हो चुका है।गोइंदवाल जेल में बंद लॉरेंस गैंग के गैंगस्टरों के जश्न मनाने की वीडियो सामने आ चुकी है। इस वीडियो में गैंगस्टर सचिन भिवानी, दीपक मुंडी और अंकित सिरसा देखे गए। लॉरेंस गैंग के उक्त गैंगस्टरों ने यह वीडियो गोइंदवाल जेल में गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया गैंग के दो गुर्गों की हत्या करने के बाद बनाई थी। पंजाब की जेलों से एक के बाद एक सामने आ रही वीडियोज से यह बात स्पष्ट है कि गैंगस्टरों द्वारा सरकारों के लाख दावों के बावजूद मोबाइल के इस्तेमाल मामलों में कोई कमी नहीं आ सकी है।

जेल सुपरडैंट मनजीत सिंह टिवाना ने किया खंडन

दूसरी तरफ संगरुर जेल के सुपरडेंट मनजीत सिंह टिवाना ने न्यूज़ लिंकर्स के साथ बातचीत में वायरल वीडीयो मामले का पूरी तरह खंडन किया है l उन्होनें स्पष्ट कहा की वीडीयों में दिखाई दे रही हवालात उनकी जेल की नहीं है l उन्होंने गैंगस्टर आमना ऊबा की तलाशी में कोई मोबाईल बरामद होने की बात से भी इंकार किया व कहा जब कोई रिकवरी ही नहीं हुई तो FIR कैसी? बहरहाल उन्होंने स्वीकार किया की गैंगस्टर आमना ऊबा पिछले 4 महीनों से उनकी जेल में ही बंद है l श्री टिवाना ने बताया की prisons headquarter के उच्चाधिकारियों द्वारा सारे मामले की जांच की जा रही है l

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!